farhan ali qadri
Home | Video | Audio | Albums | Latest Album | Gallery | Forum | Guest Book | Search | Tell A Friend | Contact
Title Bookmark and Share farhan ali qadri


Farhan Ali Qadri - मेरी गल बन गयी ए
        Hindi Lyric
  Audio   Roman   Hindi

मेरी गल बन गयी ए

बख्त जगाया ए
मेरे तय आका नें करम कमाया
दियो मुबारकबाद सेओ मेरी गल बन गयी ए
दियो मुबारकबाद सेओ मेरी गल बन गयी ए
वीसा मदीने दा मैनों वी आया
मैनों वी दर तय आका बुलाया
सुनी गयी मेरी फ़रियाद
सैओ मेरी गल बन गए ए
हर पसे वेखो हाला ए नूर दा
दिसदा पाया ए रोज़ा हुज़ूर दा
मिली ए मैनों वी मुराद
सैओ मेरी गल बन गए ए
सिफत ओ सना में जदों दी करना
नात ए रसूल में जदूं दी पढना
दुखुं तूं होयिया में आज़ाद
सैओ मेरी गल बन गयी ए
सारे ज़माने तूं भूल भुला के
पंज्तन दे बोहे तय आ के
आया ग़ुलामी दा सवाद
सैओ मेरी गल बन गयी ए
लगदा ई नहीं सी दिल काले आन
में वी फारूकी हूँ तैबा नूं चलान
सोहने नें किता मैनों याद
सैओ मेरी गल बन गयी ए

Copyright © 2007 - 2017 - Powered by Net is Host