farhan ali qadri
Home | Video | Audio | Albums | Latest Album | Gallery | Forum | Guest Book | Search | Tell A Friend | Contact
Title Bookmark and Share farhan ali qadri


Farhan Ali Qadri - महफ़िल -ए- मिलाद करने की लगन ज़िंदा रहे
        Hindi Lyric
  Audio   Roman   English   Hindi   Urdu

महफ़िल -ए- मिलाद करने की लगन ज़िंदा रहे

महफ़िल -ए- मिलाद करने की लगन ज़िंदा रहे
आशिकान -ए- मुस्तफा का ये चलन जिंदा रहे

हर तरफ नारे ही नारे आमद -ए- सरकार के
सुन्नियों का लेहलहता ये चमन जिंदा रहे

चारसू खुशियाँ ही खुशियाँ आपके आने की है
या नबी जशन - ए - विलादत की लगन जिंदा रहे

हम मानते ही रहेंगे उनके आने की ख़ुशी
दुश्मन - ए - जशन - ए -विलादत की जलन जिंदा रहे

नात के अशार सुनकर ये कहा सरकार ने
ता उमर जारी तुम्हारा ये लहन जिंदा रहे

ज़िन्दगी बेकार है जो हो न इश्क - ए- मुस्तफा
या खुदा इश्क - ए - मोहम्मद की अगन जिंदा रहे

ये शहीदों के लहू की दोस्तों आवाज़ है
मर गए जो आप पर उनके बदन जिंदा रहे

हम है नामूस - ए - नबी के पासबान है पासबान
उनपे जान कुर्बान करने का वचन जिंदा रहे

मुझको दे तासीर मौला और कलम में रौशनी
ऐ उजागर शायरी का यह फन जिंदा रहे

Copyright © 2007 - 2017 - Powered by Net is Host